मतदाताओं को करना होगा कोरोना के इन नियमों का पालन

चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है। आयोग का कहना है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच चुनाव कराना एक चुनौती है। सभी पांच राज्यों में सात चरणों में चुनाव होंगे। यूपी में सात, मणिपुर में दो, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में एक चरण में चुनाव संपन्न होंगे। 10 मार्च को वोटों की गिनती होगी। आइए जानते हैं चुनाव के दौरान मतदाताओं को किन नियमों का पालन होगा इस बार एक मतदान केंद्र पर 1250 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। सभी पोलिंग बूथ पूरी तरह से सैनिटाइज किए जाएंगे। हर बूथ पर मास्क और सैनिटाइजर मौजूद रहेगा। दिव्यांग वोटर्स के लिए व्हीलचेयर की व्यवस्था की जाएगी। सभी पोलिंग बूथ ग्राउंड फ्लोर पर बनाए जाएंगे। कोरोना की वजह से चुनाव आयोग ने इस बार 16 प्रतिशत मतदान केंद्र बढ़ाए हैं। कोरोना संक्रमित व्यक्ति, 80 साल से ज्यादा उम्र के नागरिक, दिव्यांगों के लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था होगी।
मतदान केंद्र पर मौजूद सभी कर्मचारियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगी होंगे। इसके अलावा उन्हें फ्रंटलाइन वर्कर्स मानते हुए बूस्टर डोज दी जाएगी। सभी बूथ पर पुरुष और महिला सुरक्षाकर्मी तैनात होंगे। मतदान केंद्र पर कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन जरूरी होगा। सभी मतदाता सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे। 15 जनवरी तक किसी भी तरह की जनसभा, रोड शो, बाइक रैली, साइकिल रैली और पदयात्रा को अनुमति नहीं दी जाएगी। 15 जनवरी के बाद स्थिति की समीक्षा की जाएगी। सार्वजनिक सड़क पर नुक्कड़ सभा की इजाजत नहीं दी जाएगी। प्रत्याशियों को डोर टू डोर प्रचार के लिए केवल पांच लोगों की अनुमति होगी। उम्मीदवार जीतने के बाद विजय जुलूस नहीं निकाल पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: