मामला मथुरा के छाता कोतवाली अंतर्गत केडी चौकी के गांव पसोली में चेतक सवार पुलिसकर्मियों ने एक घर में घुसकर बर्बरता दिखाई। पुलिस ने जबरन घर में घुसकर गुंडई दिखाते हुए जमकर तोड़फोड़ की विरोध करने पर युवती को डंडो से पीटा। गृहस्वामी ने बताया कि पुलिस द्वारा की गई तोडफ़ोड़ से उसके घर मे रखे उसके 15 हजार रुपये भी गायब हो गए। गांव पसोली निवासी दीनदयाल सिंह ने बताया कि नाली निकालने को लेकर उसका अपने ही बड़े भाई पप्पू से विवाद हो गया था। जिसकी सूचना दीनदयाला ने डायल 112 पुलिस को दी लेकिन जब सूचना पर पुलिस नहीं पहुचीं तो वह केडी चौकी पर शिकायत करने गया। लेकिन पीछे से पप्पू के कहने पर केडी चौकी पर तैनात दो सिपाही चेतक बाइक पर सवार होकर दीनदयाल के घर पहुचें और वहां गालीगलौज करते हुए जबरन उसके घर मे घुसकर तोड़फोड़ करने लगे। दोनों पुलिसकर्मियों ने घर मे रखा सारा सामान उलट पलट कर दिया। कुर्सी, मेज, चूल्हा, बर्तन, बिजली बल्ब, बिजली के तार आदि को तोड़ दिया यही नहीं दोनों पुलिसकर्मियों ने घर मे रखे राशन के समान को भी नहीं छोड़ा उसे भी मिट्टी में मिला दिया। जिसके चलते शुक्रवार को उसका पूरा परिवार भूखा रहा। जब इसका विरोध वहां रही पप्पू की साली ने किया तो पुलिसकर्मियों ने रौब दिखाते हुए उसे भी डंडो से पीट दिया दीनदयाल ने बताया कि पुलिस द्वारा तोड़े गए जमीन पर पड़े बिजली के तार से उसकी पांच वर्ष की बेटी को करंट लग गया,जिसकी बमुश्किल जान बची है। वही घर मे रखे 15 हजार रुपए भी गायब हो गए। दीनदयाल ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच कर कार्यवाई कराएं जाने की मांग की है। वही जब इस सम्बंध में केडी चौकी प्रभारी सन्दीप सिंह से बात की तो उनका कहना था कि गांव पसोली में शुक्रवार को दो भाइयों में विवाद हो गया था। जिसकी शिकायत मिलने पर पुलिस जांच करने गई थी। पुलिस ने कोई तोड़फोड़ नहीं की है।

डॉ केशव आचार्य गोस्वामी

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES