UP News

UP News : दोस्त की संपत्ति हड़पने के लिये अपनी प्रेमिका के कराई शादी

एक युवक ने दोस्त की संपत्ति हड़पने के लिए पहले अपनी प्रेमिका से उसकी शादी करा दी और फिर संपत्ति नाम होने के बाद उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने मामले में मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने एक क्राइम शो देखकर हत्या की योजना बनाई थी। मामला गाजियाबाद जिले के मुरादनगर की शंकर विहार कॉलोनी का है।

29 मई को शंकर विहार कॉलोनी निवासी 48 वर्षीय अशोक शर्मा का शव घर के बाथरूम में पड़ा मिला था। उसकी पत्नी शालू ने बताया कि नहाते समय करंट लगने से आशोक की मौत हो गई, जबकि मृतक के भाइयों ने उसकी हत्या की आशंका जताई थी। थाना प्रभारी ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या करने की पुष्टि हुई। इसके बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी और एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। दोनों ने खुलासा किया कि संपत्ति हड़पने के लिए अशोक की हत्या की गई थी। थाना प्रभारी ने बताया कि पत्नी शालू निवासी जिला सुल्तानपुर और कपिल कुमार निवासी डासना को गिरफ्तार कर लिया गया है।

प्रेमिका से शादी कराई

आरोपी कपिल कुमार टैक्सी चलाने का काम करता है, जबकि सुल्तानपुर निवासी शालू के पहले पति की सड़क हादसे में मौत हो गई थी। पति की मौत के बाद व काम की तलाश में दिल्ली आ गई। इसी बीच उसकी मुलाकात कपिल से हो गई। कपिल और शालू के बीच नजदीकी काफी बढ़ गईं। इधर, कपिल कुमार दिल्ली मेरठ मार्ग से गुजरता था तो वह मुरादनगर थाने के सामने स्थित एक होटल पर रुककर चाय-नाश्ता करता था। इसी बीच उसकी मुलाकात होटल संचालक के भाई अशोक शर्मा से हो गई। अशोक दिव्यांग था और उसकी शादी भी नहीं हुई थी। उसने अशोक से शादी कराने की बात कही। दो साल पहले कपिल ने अपनी प्रेमिका शालू से अशोक शर्मा की शादी करा दी।

क्राइम शो देखकर योजना बनाई

शादी होने के बाद कपिल का अशोक शर्मा के मकान में आना-जाना शुरू हो गया। हालांकि परिजनों के एतराज पर कपिल ने आना छोड़ दिया और डासना में चाय की दुकान खोल ली। इसके बाद शालू बहाना बनाकर कपिल से मिलने डासना जाने लगी। अशोक शर्मा इसका विरोध करता था, जिसके बाद एक क्राइम शो देखकर कपिल और शालू ने अशोक की हत्या की योजना बनाई।

तकिए से दबाकर हत्या

28 मई की रात आरोपियों ने अशोक की तकिए से  दबाकर हत्या कर दी। सुबह शव बाथरूम में डाल दिया और करंट लगने से मौत की चर्चा फैला दी। जांच में पता चला है कि अशोक ने दिल्ली-मेरठ मार्ग पर स्थित दुकान पत्नी के नाम कर दी थी। मकान के भी नाम होने की बात चल रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: