मनवर नदी का पुरूद्धार कार्य जारी, मनरेगा के तहत प्रतिदिन 1492 श्रमिक कर रहेे काम, अबतक 5400 मानव दिवसों का हुआ सृजन

गोंडा जिले में मनरेगा श्रमिकों एवं प्रवासी श्रमिकों को बड़े पैमाने पर स्थानीय स्तर पर रोजगार मुुहैया कराया जा रहा है। मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी ने बताया कि मनरेगा योजना के तहत अकेले तालाबों जीर्णोद्धार में अब तक 454 परिवारों कोे रोजागर दिया गया है जिसमें 4543 मानव दिवसों का सृजन हुआ है।

वहीं 05 जून विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर शुरू कराए गए मनवर नदी के पनुरूद्धार कार्य में प्र्रतिदिन 1492 श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराया जा रहा है जिसमें प्रवासी मजदूर भी शामिल हैं। मनवर नदी के पनुरूद्धार कार्य में अब तक 5400 मानव दिवसों का सृजन कराया जा चुका है। उन्होंने बताया कि वहीं नदी क्षेत्र में पड़ने वाले जिले के पांच ब्लाकों इटियााथोक, मुजेहना, पण्डरीकृपाल, मनकापुर तथा छपिया ब्लाक से होते हुए इन ब्लाकों के 46 ग्राम पंचायतों से 82 किलोमीटर लम्बी दूरी तय करने वाली नदी के पुरूद्धार काम हो रहा है जहां पर लगभग प्र्रतिदिन 4 हजार मनरेगा श्रमिक काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि नदी के पुरूद्धार में प्रवासी श्रमिकों को भी रोजगार दिया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि कराए जा रहे मनरेगा कार्यों की मानटरिंग के लिए उनके द्वारा ग्राम पंचायतवार नोडल अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है जिनके द्वारा रोजाना ग्राम पंचायतवार रिपोर्ट दी जा रही है। सीडीओ ने बताया कि मनवर नदी पर कार्य कराने के अलावा जनपद की अन्य ग्राम पंचायतों में भी मनरेगा के तहत कार्य कराए जा रहे हैं जिनमें नाली, खड़न्जा तथा मिट्टी पटाई के कच्चे कार्य शामिल हैं। इसके अलावा नदी के किनारों को हरा-भरा बनवाने के लिए वन विभाग के माध्यम से नदी के दोनों तटों पर लगभग 55 हजार पौधों को रोपित कराने का कार्य शुरू करा दिया गया है।

                   

 

श्याम बाबू कमल

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES