आज का हिन्दू पंचांग

आज का हिन्दू पंचांग ~ 🌞
⛅ दिनांक 18 मई 2020
⛅ दिन – सोमवार
⛅ विक्रम संवत – 2077 (गुजरात – 2076)
⛅ शक संवत – 1942
⛅ अयन – उत्तरायण
⛅ ऋतु – ग्रीष्म
⛅ मास – ज्येष्ठ (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार वैशाख)
⛅ पक्ष – कृष्ण
⛅ तिथि – एकादशी शाम 03:08 तक तत्पश्चात द्वादशी
⛅ नक्षत्र – उत्तर भाद्रपद शाम 04:58 तक तत्पश्चात रेवती
⛅ योग – प्रीति 19 मई प्रातः 04:30 तक तत्पश्चातम आयुष्मान्
⛅ राहुकाल – सुबह 07:27 से सुबह 09:06 तक
⛅ सूर्योदय – 06:00
⛅ सूर्यास्त – 19:09
⛅ दिशाशूल – पूर्व दिशा में
⛅ व्रत पर्व विवरण – अपरा-जलक्रिड़ा-भद्रकाली एकादशी
💥 विशेष – हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।
💥 आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l
💥 एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।
💥 एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है | एकादशी को शिम्बी (सेम) ना खाएं अन्यथा पुत्र का नाश होता है।
💥 जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 अपरा एकादशी 🌷
➡ 18 मई 2020 सोमवार को अपरा एकादशी है ।
🙏🏻 ‘अपरा एकादशी’ को उपवास करके भगवान वामन की पूजा करने से मनुष्य सब पापों से मुक्त हो श्रीविष्णुलोक में प्रतिष्ठित होता है ।इसका महात्म पढ़ने और सुनने से सहस्र गौदान का फल मिलता है ।
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 आर्थिक परेशानी या कर्जा हो तो 🌷
➡ 19 मई 2020 मंगलवार को भोम प्रदोष योग है ।
🙏🏻 किसी को आर्थिक परेशानी या कर्जा हो तो भोम प्रदोष योग हो, उस दिन शाम को सूर्य अस्त के समय घर के आसपास कोई शिवजी का मंदिर हो तो जाए और ५ बत्ती वाला दीपक जलाये और थोड़ी देर जप करें :
👉🏻 ये मंत्र बोले :–
🌷 ॐ भौमाय नमः
🌷 ॐ मंगलाय नमः
🌷 ॐ भुजाय नमः
🌷 ॐ रुन्ह्र्ताय नमः
🌷 ॐ भूमिपुत्राय नमः
🌷 ॐ अंगारकाय नमः
👉🏻 और हर मंगलवार को ये मंगल की स्तुति करें:-
🌷 ” गर्णी गर्भ शंभुतं, विधुत कान्ति समप्रभ
कुमारं शक्ति हस्त, मंगलं प्रणाममहं “
🙏🏻 सुरेशनंदजी
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 भौम प्रदोष व्रत 🌷
🙏🏻 त्रयोदशी को मंगलवार उसे भौम प्रदोष कहते हैं ….इस दिन नमक, मिर्च नहीं खाना चाहिये, इससे जल्दी फायदा होता है | मंगलदेव ऋणहर्ता देव हैं। इस दिन संध्या के समय यदि भगवान भोलेनाथ का पूजन करें तो भोलेनाथ की, गुरु की कृपा से हम जल्दी ही कर्ज से मुक्त हो सकते हैं। इस दैवी सहायता के साथ थोड़ा स्वयं भी पुरुषार्थ करें। पूजा करते समय यह मंत्र बोलें –
🌷 मृत्युंजयमहादेव त्राहिमां शरणागतम्। जन्ममृत्युजराव्याधिपीड़ितः कर्मबन्धनः।।
🙏🏻 श्री सुरेशानंदजी – हरिद्वार 29th March’10

📖 हिन्दू पंचांग संपादक ~ अंजनी निलेश ठक्कर
📒 हिन्दू पंचांग प्रकाशित स्थल ~ सुरत शहर (गुजरात)
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: