ऐप पर पढ़ें

ऑटोमोबाइल कंपनी टाटा मोटर्स को दो साल में पहला तिमाही मुनाफा हुआ है। पैसेंजर कार और मीडियम एंड हेवी कमर्शियल व्हीकल्स की मजबूत डिमांड के कारण टाटा मोटर्स को 7 तिमाही के बाद यह मुनाफा हुआ है। टाटा मोटर्स को चालू वित्त वर्ष की दिसंबर 2022 तिमाही में 2,957.71 करोड़ रुपये का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट हुआ है। एक साल पहले की समान अवधि में टाटा मोटर्स को 1,516 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। वहीं, चालू वित्त वर्ष की सितंबर 2022 तिमाही में कंपनी को 944.61 करोड़ रुपये का नेट लॉस हुआ था।    

88,488.59 करोड़ रुपये रहा कंपनी का रेवेन्यू

जगुआर लैंड रोवर (JLR) की पैरेंट कंपनी टाटा मोटर्स का कंसॉलिडेटेड रेवेन्यू अक्टूबर-दिसंबर 2022 तिमाही में 88,488.59 करोड़ रुपये रहा है। एक साल पहले की समान अवधि के मुकाबले टाटा मोटर्स का रेवेन्यू 22.5 पर्सेंट बढ़ा है। पिछले साल की समान अवधि में टाटा मोटर्स का रेवेन्यू 72,229 करोड़ रुपये था। टाटा मोटर्स के शेयर बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में 419 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं। कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई लेवल 519.50 रुपये है। 

यह भी पढ़ें- अडानी के FPO में दुनिया भर की निवेश कंपनियों की दिलचस्पी, 27 जनवरी से आपके लिए भी मौका  

9900 करोड़ रुपये रहा कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट

अक्टूबर-दिसंबर 2022 तिमाही में टाटा मोटर्स का कंसॉलिडेटेड ऑपरेटिंग प्रॉफिट सालाना आधार पर 11 पर्सेंट बढ़कर 9900 करोड़ रुपये रहा। वहीं, मार्जिन 90 बेसिस प्वाइंट के सुधार के साथ 11.1 पर्सेंट पर पहुंच गया। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन नेट प्रॉफिट करीब 3 गुना बढ़कर 506.19 करोड़ रुपये है। वहीं, कंपनी का स्टैंडअलोन रेवेन्यू सालाना आधार पर 28 पर्सेंट बढ़कर 15,794 करोड़ रुपये रहा है। तीसरी तिमाही में जगुआर लैंड रोवर (JLR) का रेवेन्यू 28 पर्सेंट बढ़कर 6 बिलियन पौंड रहा है। 

यह भी पढ़ें- एक रिपोर्ट और बिखर गए अडानी ग्रुप के शेयर, निवेशकों में बेचने की होड़

डिस्क्लेमर: यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES