Modinagar : यूपी टीईटी की परीक्षा रद् हो जाने से परीक्षार्थी हुए निराश

Modinagar । शहर के 3 परीक्षा केंद्रों पर रविवार को यूपी टीईटी- 2021 परीक्षा का आयोजन किया जा रहा था। परीक्षा दो पालियों में होनी थी। परीक्षा में करीब तीन हजार से अधिक परीक्षार्थी शामिल होने थे, तय समय पर परीक्षार्थी एग्जाम देने के लिए पहुंच गए थे। कुछ प्रश्न उन्होंने हल भी कर लिए थे, इस बीच उन्हें जानकारी मिली कि पेपर आउट होने की वजह से परीक्षा रद् कर दी गई है। इसके बाद वे निराश होकर लौट गए।

विभिन्न शहरों बिजनौर, मुरादाबाद, बुलंदशहर, अलीगढ, मुरादाबाद, रामपुर आदि परीक्षार्थी एग्जाम देने आए थे, लेकिन परीक्षा रद् होने से वे मायूस हो गए। परीक्षार्थी बोले कि दो साल से वे मेहनत कर रहे थे, कोचिंग भी की, लेकिन नतीजा सिफर रहा। कहा कि पेपर आउट होने से परीक्षार्थी मानसिक तनाव में आ गए हैं। पारदर्शिता के दावे करने के बावजूद प्रदेश में कहीं न कहीं पेपर आउट हो रहे हैं। बिजनौर से आई हेमलता का कहना है कि कई वर्ष से परेशानी झेलती चली आ रही हूॅं, लेकिन अब पेपर आउट होने से काफी निराश हूंॅ।
बिजनौर से आई मीनू का कहना है कि पारदर्शिता के दावे फेल हो गए, हर तरीके से परीक्षार्थी ही परेशान होते हैं। तड़के पांच बजे बिजनौर से चली थी, एंट्री भी हो गई लेकिन परीक्षा रद् कर दी गई। बुलंदशहर से आए हरदीप सिंह ने भी परीक्षा रद् होने पर कहा कि दो साल से तैयारी कर रहा था, कोचिंग भी की थी, उम्मीद थी, कि पहली बार में ही पास हो जाऊंगा, लेकिन परीक्षा रद् होने से मुझे मानसिक रूप से आघात पहुंचा है। मुरादाबाद के रहिसुद्दीन ने परीक्षा रद् होने पर शासन व्यवस्था को चैपट बताया। कहा कि सरकार पारदर्शिता करने में फेल हो गई।
प्रवेश न मिलने पर थे निराश अब मिली राहतः
शहर के डाॅ0 केएन मोदी इंटर काॅलिज में बीएड् व बीटीसी की मूल अंक तालिका की प्रमाणित फोटोस्टेट की कॉपी न होने पर कुछ को प्रवेश करने से रोक दिया गया। इसको लेकर परीक्षार्थियों व उनके साथ आए अभिभावकों ने हंगामा किया। डाॅ0 केएन मोदी इंटर काॅलिज के प्रधानाचार्य ने मूल अंक तालिका के बिना प्रवेश से इन्कार कर दिया। परीक्षार्थियों ने फोन करके घरों से अंक तालिका मंगाई, इसके बाद किसी तरह 10 बजे तक वे परीक्षा हॉल में प्रवेश कर पाए। रूकमणी महिला इंटर काॅलिज में गीता रानी को प्रवेश नहीं मलिा तो वह रोने लगीं। अलीगढ़ से आई फरजाना, जावेद, प्रदेीप, संगीता आदि  को प्रवेश नहीं मिला। हालांकि अब परीक्षा रद् होने से परीक्षार्थी काफी परेशान दिखाई दे रहे हैं। लेकिन इससे परीक्षा से वंचित रह गए परीक्षार्थीयों को राहत जरूर मिल गई है। अगली बार वे अपने पूरे प्रमाण पत्र के साथ परीक्षा देने आएंगे। उन्हें फिर से ऐसा मौका मिल जायेंगा।
बाक्स
बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही योगी सरकार- मनीषा
सपा छात्रसभा की जिलाध्यक्ष मनीषा त्यागी ने कहा कि बाकी चीजों में तों माफिया गिरी हो रही है, कम से कम बच्चों के साथ, उनके भविष्य के साथ, नौकरियों में जिनको काम मिलना है, जिनको प्रतियोगी परीक्षा के जरिए काम मिलना है, ऐसे बच्चों के भविष्य के साथ तो खिलवाड़ नहीं होना चाहिए। यूपी टेट पेपर का आउट होना, यह पूरी सरकार के लिए एक शर्मनाक स्थिति है। सपा छात्रसभा की जिलाध्यक्ष मनीषा त्यागी ने इस मामलें में कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग प्रदेश सरकार से की है।

UP News
UP News

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: