Meerut : कोरोना की नई लहर से पहले मेरठ के 13 प्लांटों में पैदा होने लगी आक्‍सीजन

मेरठ में कोरोना की नई लहर आने से पहले ऑक्सीजन प्लांट चालू कर लिए गए हैं। मेडिकल कालेज में एक प्लांट इनस्टॉल करना बाकी है। डीआरडीओ की टीम जल्द ही प्लांट लगाएगी। सीएमओ ने प्रदेश सरकार को पत्र भेजकर स्थिति साफ कर दी है। आक्‍सीजन प्‍लांट के शुरू हो जाने काफी राहत मिलने वाली है। क्‍योंकि बीते समय में आक्‍सीजन की किल्‍लत को झेला जा चुका है। लेकिन अब ऐसे हालात नहीं बनेंगे। यह एक राहत की बात है।

इन स्‍थानों पर शुरू हुए प्‍लांट
सीएमओ डॉ अखिलेश ने बताया कि मेरठ में 32 कोविड केंद्रों में ऑक्सीजन की भारी कमी पड़ गयी थी। मई के अंतिम सप्ताह में कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ने के साथ ही प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य केंद्रों पर प्लांट लगाने के लिए कहा। सीएमओ ने बताया कि सात सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों मवाना, हस्तिनापुर, सरधना, दौराला, किठौर और परीक्षितगढ़ में ऑक्सीजन प्लांट चालू कर लिया गया है।

नई तैयारी
मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डॉ अशोक तालियान ने बताया कि जिले में कोरोना संक्रमण पूरी तरह थमा हुआ है। लेकिन सभी कोविड केंद्रों में नई तैयारी की गई है। सामान्य केंद्रों को भी ऑक्सीजन पाइपलाइन से जोड़ा गया है। मेडिकल कालेज में 110 बेडों का कोविड पीडियाट्रिक वार्ड बना लिया गया है। 15 निजी अस्पतालों में 500 पीडियाट्रिक बेड बनाये गए हैं। गौरतलब है कि कोरोनाकाल में शहरवासियों को आक्‍सीजन के लिए भटकना पड़ा था। आक्‍सीजन सिलेंडर के लिए केंद्रों पर लंबी लंबी कतारें देखी गई थी। एक एक सिलेंडर के लिए जद्दोजहद थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: