Govardhan : परिक्रमा के गिर्राज संत सेवाश्रम कोरोना बचाव के चलते हवन यज्ञ में आहूति देते राधा मोहन दास सिद्ध जी व अन्य 

 

कोरोना जैसी बीमारी को दूर करने के लिए हवन यज्ञ जरूरीः- राधा मोहन दास सिद्ध

– कोरोना वायरस प्राकृतिक नहीं बल्कि चीन के द्वारा बनाया जैविक हथियार है

– गोवर्धन परिक्रमा के गिर्राज संत सेवाश्रम पर संत-विचार, हवन यज्ञ एवं सुरक्षा गोष्ठी का आयोजन

गोवर्धन। परिक्रमा मार्ग के गिर्राज संत सेवाश्रम पर विश्वव्यापी कोरोना बीमारी को दूर करने के लिए हवन यज्ञ, संत-विचार एवं सुरक्षा गोष्ठी का आयोजन किया गया। संत गोष्ठी की अध्यक्षता संत राधामोहन दास सिद्ध जी ने की। ज्योतिषाचार्य राधा मोहन दास सिद्ध जी ने कहा कि कोरोना बीमारी पूरे विश्व को सता रही है। भारत देश सनातन संस्कृति एवं धार्मिक परंपराओं से जुड़ा है। भारत को आज भी विश्व गुरू दर्जा मिला हुआ है। पूरे विश्व को भारत ने सब के हित का संदेश दिया है। भगवान नाम के जप से बड़ी से बड़ी महामारी को दूर किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस प्राकृतिक नहीं है। इसे चीन ने जैविक हथियार के रूप में बनाया है। चीन, पाकिस्तान, नेपाल जैसे देश मिलकर भारत को घेरना चाहते हैं। देश के कर्णधारों को सावधान रहने की जरूरत है। हवन यज्ञ में आहुतियां दी गई हैं। राधामोहन दास रघुनाथ सिद्ध, ज्ञानेन्द्र पंडित याज्ञिक, लाल दास त्यागी,  भइया बाबा, शिवम् ,गोपी, बाबा जगदीश दास, मदन गोपाल दास, हजारी हनुमान दास, अजित कृष्णदास, ओमकार दास आदि थे।

 

गोवर्धन में वट वृक्ष की पूजा अर्चना करती महिला

अमावस्या पर वट वृक्ष का पूजन कर अटल सौभाग्य की कामना की

गोवर्धन। वट अमावस्या पर शुक्रवार को महिलाओं ने उपवास रखा और वट सावित्री का विधि-विधान के साथ पूजन कर अटल सौभाग्य की कामना की। वट सावित्री व्रत की घरों में तैयारियां सुबह से ही शुरू हो गईं। महिलाओं ने घरों में पूजा स्थलों की सफाई की। देवी-देवताओं की मूर्तियों को स्नान कराने के बाद उन्हें नए वस्त्र पहनाए। महिलाओं ने पूजन के लिए तरह-तरह के स्वादिष्ट पकवान तैयार किए। पूजा की थाली के साथ पारंपरिक ढंग से पूजा-अर्चना करने के लिए महिलाएं घर के पास के वट वृक्ष के नीचे एकत्र हुईं। वट वृक्ष की सभी ने विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की।इस बार कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण बहुत सी महिलाओं ने बरगद की डाल घर पर मंगाकर पूजन किया। इस अवसर पर महिला पूनम, बबिता, विसाखा, सोनम, पारूल, अनीता, कीर्ति, सुरभि आदि थीं।

 

गोवर्धन में सामग्री वितरित करते गोवर्धन प्रेस क्लब के अध्यक्ष परीक्षित कौशिक

राहत शिविर में जरूरतमंदों को बांटी खाद्य सामग्री

– आद्य शंकराचार्य धर्मोत्थान संसद द्वारा जगह-जगह लगाये जा रहे हैं राहत शिविर

गोवर्धन। लाॅक डाउन में नगर के सौंख रोड स्थित भारतीय दूर संचार निगम कार्यालय परिसर में आद्य शंकराचार्य धर्मोत्थान संसद द्वारा जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री वितरित की गई। शिविर में गोवर्धन प्रेस क्लब के अध्यक्ष परीक्षित कौशिक ने अपने हाथ से जरूरतमंदों को आटा, नमक, सरसों का तेल, सब्जी, गुड़ आदि के पैकेट वितरित किये। अध्यक्ष परीक्षित कौशिक ने बताया कि आद्य शंकराचार्य धर्मोत्थान संसद द्वारा जगह-जगह राहत शिविर लगाकर अब तक हजारों लोगों की तलहटी व उसके आसपास क्षेत्र में मदद की है।  शंकराचार्य अद्योक्षजानंद देवतीर्थ महाराज के निर्देशन में गिरिराज जी तलहटी में गाय, बंदर व पक्षियों की सेवा निरन्तर जारी है। सेवा के प्रकल्प से लोगों में खुशी है। कई जरूरतमंदों के घर-घर जाकर सामग्री पहुंचाई गई है। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया है कि लाॅक डाउन का पालन करें। एक-दूसरे से सोशल डिस्टेंस बनाये रखें। घर से काम होने पर ही बाहर निकलें और मास्क, सैनिटाइजर व सफाई का प्रयोग अवश्य करें। कोरोना संक्रमण को गंभीरता से लेने की आवश्यकता है। इस अवसर पर गोपाल जागिड़, प्रशांत उपाध्याय, श्यामवती देवी, अक्षयराम चैधरी, निरंजन सिंह, विजय सैनी, निताई दास, अशोक अवस्थी, नारायण शर्मा, भरत लाल, वीरपाल जादोंन, भागीरथ सैनी, राहुल शर्मा मोदी आदि थे।

 

डॉक्टर केशव आचार्य गोस्वामी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: