सरकारी शराब की दुकानों पर अवैध रूप से वसूली का खेल धड़ल्ले से चल रहा है। शराब की कीमत प्लेसमेंट कंपनी ने अपनी मर्जी से ही तय कर ली है। वही खरीद दारों को रेट बढ़ने की बात कह कर मनमानी वसूली जा रही है। ऐसा ही हाल देखने को मिला गोवर्धन के गांव अडींग स्थित बाईपास अंग्रेजी शराब की दुकान पर यहां ग्राहकों से प्रिंट रेट से अधिक शराब के दाम वसूले जा रहे हैं। जबकि अभी प्रिंट रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। आलम यह की दुकानों पर तो डेढ़ से दोगुना राशि तक ग्राहकों से वसूली जा रही है। जब की आबकारी नीति के अनुसार हर दुकान पर शराब की कीमत को दर्शाने वाली सूची मोटे अक्षरों में लगाना जरूरी है। मगर जहां गांव अडींग स्थित शराब की दुकान पर कोई सूची नहीं लगी हुई है। शराब दुकानों पर निर्धारित कीमत से अधिक राशि वसूलने के बारे में जानकारी आबकारी विभाग के अधिकारियों को होने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। जानकारी के अनुसार आबकारी अधिनियम और नियम के तहत प्रत्येक शराब की दुकान के बाहर उस दुकान में कौन सा ब्रांड है और उसकी कीमत क्या है। उसकी जानकारी के लिए ठेके के बाहर लिस्ट चष्पा करनी जरूरी होती है। लेकिन यहां गांव में संचालित होने वाली शराब की दुकानों पर इस तरह के किसी भी नियम का पालन नहीं हो रहा है। वही गांव अडींग ग्राम पंचायत प्रधान प्रतिनिधि नितिन रावत सहित ऋषि यादव, कीर्ति स्वरूप, सोनू सोनी, दिलीप सहित अन्य ग्रामीणों ने प्रशासन से अवैध वसूली पर रोक लगाने की मांग की है।

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *