बेमौसम बारिश के चलते खेतों में पानी भरने से फसलों पर मंडराया खतरा

Modinagar । बारिश के चलते मोदीनगर में सुबह सडकों पर जलभराव हो गया है। निचले इलाकों में रास्ते जलमग्न होने से राहगीरों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। ग्राहकों के नहीं निकलने से बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ था। खेतों में पानी भरने से आलू सहित रबी की फसलों पर खतरा मंडराने लगा है।
सर्दी के सितम से लोग परेशान
मौसम में दिन प्रति दिन बदलाव हो रहा है। पिछले तीन दिनों से सर्दी के सितम से लोग परेशान थे। वहीं शनिवार को तड़के से ही बारिश शुरू हो गई थी। सुबह से ही बारिश होने से जनजीवन अस्त व्यस्त रहा। बारिश के चलते सर्दी और बढ़ गई थी। लोगों को सर्दी बारिश के चलते घरों से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया था। सर्द हवाओं ने लोगों के आगे मुश्किलें खड़ा कर दी थीं। बारिश कभी हल्की तो कभी तेज हो जाती। बारिश का सिलसिला रुक-रुक जारी रहा। विशेषज्ञ बताते हैं पूरे दिन आसमान बादल छाए रहेंगे ओंर रुक-रुक बारिश होने की संभावना बनी रहेगी।
जलभराव के चलते बंद हो गए रास्ते
शनिवार को बारिश सुबह से ही शुरू हो गई थी। बारिश के चलते उफनती हुई नालियों का पानी सड़कों पर आकर जमा हो गया। निचले इलाकों में सबसे अधिक जलभराव रहा। जलभराव के चलते तेल िमल गेट, मोदी मंदिर, दलीप पार्क, सौंदा रोड, राज चैराह सहित कई इलाकों में राहगीरों का रास्ता निकलना भी मुश्किल हो गया था। वहीं गलियों में जलभराव व कीचड़ होने से स्थानीय लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा
खेतों में भर गया पानी, फसलों को नुकसान
शनिवार को देहात क्षेत्रों में गड़गड़ाहट के साथ तड़के से ही बारिश शुरू हो गई थी। इससे खेतों में पानी भरने से आलू फसलों में रोग लगने खतरा बढ़ गया है। इससे जड़ गलन, तना गलन व पत्तियां पीली पड़ने लगेंगी। वही फल का विकास रुकने से पैदावार घट जाएगी। कृषि वैज्ञानिक डाॅ0 एके सिंह ने बताया गेहूं, मटर, जौ व सब्जियों में भी माऊं रोग लगना शुरू हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: