25.04.020 को पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह भरतपुर में पुलिस थाना कुम्हेर के बाहर पुलिस कर्मियों को धमका रहे थे और नसीहत दे रहे थे कि क्षेत्र में कर्फ्यू है एक महिला संक्रमित पोजिटिव पाई गईं है। कर्फ्यू के बावजूद लोग सड़कों पर घूम रहे हैं कर्फ्यू का कोई मतलब नहीं है कर्फ्यू के नियमों का पालन नहीं हो रहा है। इस घटना का विडियो वायरल हुआ कि सभी पुलिसकर्मियों ने मास्क लगा रखे हैं लेकिन मंत्री जी ने मास्क नहीं लगा रखा है और नियम पालन करने की दुहाई दे रहे हैं और सार्वजनिक स्थान पर पुलिसकर्मियों का अपमान कर रहे हैं और खुद मंत्री जी क़ानून का उल्लंघन कर रहे हैं।

इस पर पूनमचंद भंडारी एडवोकेट ने एसपी हैदर अली जैदी को वाट्सएप मैसेज भेज कर राज्य सरकार के मंत्री विश्वेंद्र सिंह के खिलाफ प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर नियमानुसार कार्रवाई करें, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई बल्कि फोन से भंडारी को धमकाया गया जिसकी शिकायत डीआईजी लक्ष्मण गौड़ व एस पी को की गई उसके पश्चात डीजीपी को शिकायत की गई लेकिन आजतक कोई कार्यवाही नहीं हुई इसलिए आज पूनमचंद भंडारी एडवोकेट ने अपने अधिवक्ता टी एन शर्मा व अभिनव भंडारी के जरिए हाईकोर्ट में याचिका पेश कर निवेदन किया कि विश्वेंद्र सिंह के खिलाफ कार्यवाही के आदेश दें प्रकरण में डीजीपी, डीआईजी लक्ष्मण गौड़, एसपी हैदर अली जैदी व विश्वेंद्र सिंह को पक्षकार बनाया है।

#UP News

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES