बलरामपुर जनपद थाना तूलसीपुर क्षेत्र के अर्जुन पुर गांव का है।स्वर्गीय विभूति सिंह के पुत्र वैभव राज उर्फ बोनी सिंह के साथ नीलम सिंह निवासिनी ग्राम नरकटहां थाना नौतनवा जनपद महराजगंज का विवाह 2013 में हिन्दू रीत रिवाज से सम्पन्न हुआ था।नीलम सिंह के पिता ने अपनी लड़की की शादी में 5 लाख नकद बेड अलमारी वाशिंग मशीन ए सी टीवी बर्तन फ़र्नीचर सोने के गहने सोने का 40हज़ार का चैन व सोने की चार अंगूठी महंगे कपड़े इत्यादि घरेलू सामान देकर शादी के दूसरे दिन लड़की नीलम सिंह को विदा किया।नीलम सिंह ससुराल पहुंच कर अपने दांपत्य जीवन का निर्वाह करने लगी।शादी के तीन साल बाद नीलम सिंह की सास रज्जू सिंह व गीता सिंह व प्रार्थिनी की नन्द श्रुति सिंह तथा पति एंव पत्नी नीलम सिंह के ससुर के देहांत के बाद नीलम सिंह से रोज ₹ 7 लाख रुपए एंव एक कार की मांग कर प्रताड़ित करने लगे। नीलम सिंह जब अपने पिता की माली हालत का हवाला देती तो उपरोक्त सभी लोग गालियां देते और बाल पकड़कर जमीन पर पटक पटक कर मारते पीटते और जान से मारने की कोशिश करते जिससे नीलम सिंह को काफी चोट लगी है।नीलम सिंह ने एक पुत्री आदित्य व एक पुत्र विराट सिंह को जन्म दिया।नीलम सिंह के पति पेशे से इंजीनियर है जो नौकरी के सिलसिले में दमन दीव रहते हैं वह भी प्रार्थिनी को साथ में रखकर मारपीट करते हैं पत्नी नीलम सिंह ने पति पर आरोप लगाते हुए बताया कि मेरे पति वैभव राज सिंह उर्फ बोनी जिनका काम शराब पीना और दूसरी महिलाओं से अवैध संबंध बनाना उनकी लत है।पिछले 2 वर्षों से नीलम सिंह के पति रायबरेली की रहने वाली एक औरत से अवैध संबंध है जो अध्यापिका है वो भी फोन पर धमकी देती है की जान से मरवा दूंगी और बच्चों को जहर देकर मार दूंगी प्रार्थिनी की नंद जिसकी शादी हो चुकी है वह फोन पर मानसिक यातनाएं देती है बीते 13/ 6/2020 को प्रार्थिनी को दमनदीप से मारते पीटते लाया गया 14/6/2020 को मुझे मेरे माई के ग्राम नरकटहा थाना नौतनवा जिला महाराजगंज छोड़ दिया गया और मेरे घर पर उस औरत को लाकर रखा गया जिससे मेरे पति का नाजायज संबंध है उक्त घटना का विरोध मेरी बहन द्वारा किए जाने पर उसको मेरे पति द्वारा धमकी दी गई कि बदनाम और बर्बाद कर देंगे फेसबुक पर मेरी बहन के नाम से फर्जी अकाउंट बनाकर मेरी बहन की फोटो का इस्तेमाल किया गया। अब मुझे घर में घुसने नहीं दिया जा रहा है उक्त सारी परिस्थितियों को देखते हुए न्याय हित में अंकित कानूनी कार्यवाही किया जाना आवश्यक है। अन्यथा प्रार्थी की हत्या कर दी जाएगी या करवा दी जाएगी। नीलम सिंह ने न्याय की गुहार लगाते हुए कहा कि मेरे छोटे छोटे दो बच्चे हैं मैं कहाँ जाऊं।

 

साबिर अली

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *