पूर्वी लद्दाख की गलवन घाटी में चीन की सेना के साथ खूनी झड़प के बाद से तीनों सेनाएं अलर्ट पर हैं। सेना के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गतीरोध को कम करने के लिए एक बार फिर भारत और चीन के बीच मेजर जनरल स्तर की बातचीत शुरू हो गई है। हालांकि इससे पहले दोनों देशों के बीच हुई बातचीत बेनतीजा रही थी। उधर, चीन की इस हरकत को लेकर देशभर में आक्रोश का माहौल है। लोग चीनी सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं। अब इस मुहिम में राजनेता भी उतर आए हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव, केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने चीनी सामान का विरोध किया। वहीं पूर्व सांसद पप्पू यादव चीनी मोबाइल कंपनी के बैनर पर कालिख पोतने के लिए जेसीबी पर चढ़ गए।

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *