रिपोर्ट- मनीष पुरी
भरतपुर. भरतपुर सिर्फ पक्षी अभयारण्य के लिए ही प्रसिद्ध नहीं है बल्कि ये शहर अपनी परंपराओं को भी समेटे हुए है. ऐसी ही एक परंपरा है दंगल की. बरसों से होली के अगले दिन यहां दंगल होता है. इसमें मजेदार बात ये है कि इनाम में पैसों के साथ लोग पहलवानों को काजू बादाम बांटते हैं.

बरसों की परंपरा को भरतपुर के लोग आज ही बखूबी निभाते आ रहे हैं. यहां आज भी दंगल होता है. इस दंगल में कई राज्यों के पहलवान भाग लेते हैं इन्हें देखने हजारों दर्शक आते हैं. भरतपुर के बयाना के पास ग्राम पंचायत सिंघाड़ा में हर साल दंगल होता है जो देर शाम तक चलता है.

विशाल दंगल
दंगल के आयोजक भूरा भगत ने बताया यह विशाल दंगल भरतपुर में बरसों से चला आ रहा है. इस परंपरा को आज भी हम बखूबी निभा रहे हैं. इस दंगल में भरतपुर सहित के आसपास के क्षेत्र के लोग और ग्रामीण बड़ी संख्या में दंगल देखने आते हैं. इस दंगल में भरतपुर सहित आसपास के जिले एवं राज्यों के लोग और पहलवान शामिल होते हैं.

ये भी पढ़ें- Varanasi : काशी विश्वनाथ मंदिर में अब झट से होंगे दर्शन, बदलने वाली है व्यवस्था, इन लोगों को मिलेगा लाभ

इनाम में काजू बादाम
दंगल के आयोजक बताते हैं पहले राजा-महाराजा और हमारे पूर्वज दंगल कराते थे. तब से यह परंपरा चली आ रही है. इस दंगल में मध्य प्रदेश सहित हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पंजाब और जम्मू कश्मीर के पहलवान भाग लेते हैं. दंगल में कुश्ती ₹100 से शुरू होती है और आखिरी कुश्ती 61000 हजार की होती है. एक से बढ़कर एक पहलवान अपने दांव-पेज आजमाते हैं और इनाम पाते हैं. इनाम के साथ ही लोग खुशी में पहलवानों को काजू बादाम और दूध देते हैं.

Tags: Bharatpur News, Local18

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *