रिपोर्ट-राहुल मनोहर
सीकर. 9 अप्रैल को गुड़ी पड़वा है. इस दिन से हिंदू नव वर्ष शुरू हो जाएगा. नया साल नये संकल्प और उत्साह लेकर आता है. इस नये साल में ग्रह नक्षत्र भी नयी चाल चलने के लिए तैयार हैं.  4 ग्रह नयी राशि में प्रवेश करने वाले हैं. 12 साल बाद सूर्य-गुरु की युति बन रही है. इसका उस राशि के जातकों पर क्या होगा प्रभाव. कैसी रहेगी ग्रहों की चाल.ये सारी बातें जानते हैं विस्तार से.

हिन्दू नववर्ष से पहले चार प्रमुख ग्रह राशि परिवर्तन कर रहे हैं. हिंदू नव वर्ष और विक्रम संवत 2081 (कालयुक्त संवत्सर) के साथ ही नौ अप्रैल से चैत्र नवरात्र की शुरुआत होगी. खगोलीय मंडल में होने वाले इस बदलाव का कुछ राशियों के जातकों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. इस बारे में ज्योतिषाचार्य पंडित घनश्याम शर्मा विस्तार से बता रहे हैं. उन्होंने बताया अलग अलग ग्रहों की युति होने से तेज गर्मी के साथ ही कुछ जगहों पर बूंदाबांदी के आसार हैं. शेयर बाजार में तेजी और धातु पदार्थों के दाम बढ़ सकते हैं.

इन राशि के जातकों पर होगी लक्ष्मी की कृपा
पंडित घनश्याम शर्मा ने बताया धन-ऐश्वर्य, सुख-समृद्धि का कारक ग्रह शुक्र उच्च राशि मीन राशि में प्रवेश कर चुका है. अब इससे शुक्र मालव्य राजयोग का निर्माण होगा. मीन राशि में मालव्य योग 19 मई तक रहेगा. इससे मीन, तुला और कर्क राशि के जातकों को श्रेष्ठ परिणाम मिलेंगे. बुध ग्रह दो अप्रैल से मेष राशि में वक्री चाल चलेगा. इससे मेष, वृषभ, सिंह, धनु, मकर और कुंभ राशि वालों को धन लाभ के आसार हैं.

12 वर्ष बाद सूर्य-गुरु की युति
चार अप्रैल को बुध, मेष राशि में अस्त हो जाएगा. पंडितों के अनुसार सूर्यदेव 13 अप्रैल को मेष राशि में प्रवेश करेंगे. सूर्य के मीन राशि से मेष राशि में गोचर के कारण खरमास खत्म हो जाएगा. फिर से मांगलिक कार्य शुरू होंगे. करीब 12 वर्ष बाद सूर्य-गुरु की युति बनेगी. सूर्य का 14 मई को वृषभ राशि में प्रवेश होगा.

Tags: Astrology, Local18, Sikar news

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *