भ्रष्टाचार विरोधी मोर्चा के राष्ट्रीय विधि प्रकोष्ठ महासचिव पंडित विनोद कुमार शर्मा पत्रकारों पर हो रहे हम लोग के संबंध में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि पत्रकारों पर हमला देशद्रोही कार्य है पत्रकार लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है जो कि जनता एवं सरकार के बीच न्याय के बीच कड़ी का कार्य करता है आज भारतवर्ष की विभिन्न राज्यों में पुलिस द्वारा पत्रकारों के उत्पीड़न की खबरें प्रमुखता से आ रही है पत्रकारों पर हो रहे उत्पीड़न मारपीट हमला आदि की भ्रष्टाचार विरोधी मोर्चा कठोर शब्दों से निंदा करता है

मोर्चा के विधि प्रकोष्ठ महासचिव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शीघ्र मांग की है कि मथुरा के एसएसपी गौरव ग्रोवर एवं डीएम सर्वज्ञ राम मिश्र को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किया जाए दिनांक 26 अप्रैल की घटना होने के बावजूद भी दोषी एसआई के खिलाफ जिला प्रशासन एवं मथुरा पुलिस प्रशासन द्वारा आज तक एफ आई आर दर्ज नहीं किए मथुरा को भ्रष्टाचारी अपराध को संरक्षण देने वाले अधिकारियों की आवश्यकता नहीं है योगी शासन में मथुरा जिले में सबसे ज्यादा पत्रकारों का उत्पीड़न हो रहा है उनके खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज हो रहे हैं वरिष्ठ पत्रकार डॉ केशव आचार्य गोस्वामी पत्रकार, गोपाल सैनी अधिकारों का मथुरा जनपद की थाना गोवर्धन पुलिस शोषण शोषण बंद नहीं किया तो लॉक डाउन के बाद अधिवक्ता समाज मथुरा के पुलिस प्रशासन जिला प्रशासन के खिलाफ आमरण अनशन के लिए बाध्य होगा

प्रदेश के मुखिया योगी जी को घटना देने के बाद भी आज तक दोषी पुलिसकर्मी एसआई के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं किया है बल्कि संपूर्ण पुलिस प्रशासन एस आई अनुज मलिक थाना अध्यक्ष गोवर्धन लोकेश भाटी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके सीबीआई जांच कराई जाए सीबीआई जांच में पुलिस विभाग द्वारा जिन पत्रकारों के खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज किए गए हैं सच्चाई सामने आ जाएगी

 डॉ केशव आचार्य गोस्वामी

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *