मेरठ जिले में मुंडाली थाना क्षेत्र के गांव अजराड़ा में बेरोजगारी को लेकर बड़े भाई ने छोटे भाई को गोली मार दी। उसे गंभीर हालत में मेरठ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लॉकडाउन में बेरोजगारी और ईद को लेकर रुपये मांगने पर भाइयों में विवाद हुआ था।

शौकत के दो बेटे हैं। बड़ा मसरूर और छोटा अफरोज उर्फ नोला है। लॉकडाउन में दोनों की मजदूरी बंद है।  रविवार को मसरूर ने अफरोज से खर्चे के रुपये देने के लिए कहा। उसने कहा कि ईद आ रही है और जेब में पैसे भी नहीं हैं। अफरोज में लॉकडाउन में काम-धंधा बंद होने की बात कहते हुए रुपयों का इंतजाम होने से मना कर दिया। इस पर दोनों भाइयों में विवाद बढ़ गया। इस दौरान अफरोज को गोली मार दी गई। गोली की आवाज सुनते ही गांव में अफरातफरी मच गई। सूचना पर पुलिसकर्मी गांव में पहुंचे। उन्होंने जानकारी हासिल की। बताया गया कि इस दौरान अफरोज ने बड़े भाई मसरूर और पिता शौकत पर गोली मारने का आरोप लगाया।

घायल को मेरठ में गढ़ रोड स्थित शिव शक्ति नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। उधर पुलिस ने पूरे मामले की जानकारी से ही इनकार कर दिया। मुंडाली थाना प्रभारी विनोद कुमार से पूछा गया कि पुलिस गांव में क्यों गई तो उनका कहना था कि सट्टे की सूचना मिली थी। गोली मारने की बात पर उन्होंने कहा, मुझे अभी जानकारी नहीं है। मामला जानकारी में आते ही मुकंदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *