जापान का अस्पताल (प्रतीकात्मक फोटो)- India TV Hindi

Image Source : AP
जापान का अस्पताल (प्रतीकात्मक फोटो)

तोक्यो: जापान में स्वास्थ्य को बेहतर करने की चाहत में कई लोग अपनी जिंदगी से ही हाथ धो बैठे हैं। एक स्वास्थ्यवर्धक टॉनिक पीने से जापान के 5 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि इस घटना के बाद स्वास्थ्यवर्धक उत्पादों को वापस लिया जाने लगा है। मगर इस सप्ताह में शुक्रवार तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है और 100 से अधिक लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। ओसाका स्थित कोबायाशी फार्मास्युटिकल कंपनी पर आरोप है कि उसे इन उत्पादों से समस्याओं के बारे में जनवरी की शुरुआत में ही पता चल गया था। लेकिन इस संबंध में सार्वजनिक रूप से पहली घोषणा 22 मार्च को की गयी।

कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि कोलेस्ट्रॉल कम करने में उपयोग किये जाने वाले ‘बेनीकोजी कोलेस्टे हेल्प’ समेत कई उत्पादों का सेवन करने के बाद 114 लोगों का अस्पतालों में उपचार हो रहा है। बेनीकोजी कोलेस्टे हेल्प में बेनीकोजी नामक सामग्री मिली है जो फफूंद की लाल प्रजाति है। इस सप्ताह की शुरुआत में मृतकों की संख्या दो थी। उत्पाद निर्माता के अनुसार, कुछ लोगों को इन उत्पादों के सेवन के बाद किडनी में समस्या पेश आने लगी लेकिन सरकारी प्रयोगशालाओं के साथ मिलकर असल वजह का अभी पता लगाया जा रहा है।

कंपनी के अध्यक्ष ने मांगी माफी

कंपनी के अध्यक्ष अकीहिरो कोबायाशी ने लोगों की मौत होने और बीमार पड़ने को लेकर शुक्रवार को माफी मांगी। कंपनी ने बेनीकोजी सामग्री वाले कई अन्य उत्पादों को बाजार से वापस ले लिया है। जापान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन उत्पादों की सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित की है। इन उत्पादों में वे उत्पाद भी शामिल है जिनमें ‘फूड कलर’ के लिए बेनीकोजी का इस्तेमाल किया गया है। मंत्रालय ने आगाह किया है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। कोबायाशी फार्मास्युटिकल वर्षों से बेनीकोजी उत्पाद बेच रही है लेकिन समस्याएं 2023 में बने उत्पादों के साथ शुरू हुई। कंपनी ने बताया कि उसने पिछले साल 18.5 टन बेनीकोजी का उत्पादन किया। (एपी)

यह भी पढ़ें

अमेरिकी नागरिकों को चुन-चुन कर जेल में डाल रहा रूस, इस रिपोर्ट से उड़ी बाइडेन की नींद

जेलेंस्की ने अपने विदेश मंत्री कुलेबा को भेजा भारत, पीएम मोदी और जयशंकर रूस-यूक्रेन युद्ध में लाने वाले हैं शांति!

Latest World News

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *