प्रतीकात्मक तस्वीर- India TV Paisa

Photo:CANVA प्रतीकात्मक तस्वीर

ब्रॉडबैंड प्रौद्योगिकी कंपनी स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज ने एचडीएफसी म्यूचुअल फंड, निप्पॉन लाइफ इंडिया, गोल्डमैन सैक्स और बंधन म्यूचुअल फंड सहित पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) को इक्विटी जारी करके 1,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। 

आवंटन के बाद, स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज (एसटीएल) की चुकता इक्विटी शेयर पूंजी बढ़कर 97.5 करोड़ रुपये हो गई है, जिसमें 48.5 करोड़ इक्विटी शेयर शामिल हैं। कंपनी ने शेयर बाजार को दी जानकारी में बताया, ‘‘ एसटीएल ने पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) के जरिए 1,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं।’’ 

फंड का कहां उपयोग करेगी कंपनी? 

एसटीएल के प्रबंध निदेशक अंकित अग्रवाल ने कहा कि अपने निवेशकों का उनके निरंतर समर्थन तथा एसटीएल की विकास क्षमता में विश्वास करने के लिए आभार व्यक्त करते हैं। क्यूआईपी के जरिए जुटाए गए धन का इस्तेमाल हमारी बैलेंस शीट को मजबूत करने के लिए किया जाएगा ताकि हम दुनिया को जोड़कर अरबों लोगों के जीवन को बदलने के अपने प्रयासों को दोगुना कर सकें।

बता दें, स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज की स्थापना जुलाई 2001 में हुई थी । कंपनी ओपटिकल फाइबर केबल और ऑप्टिकल फाइबर के क्षेत्र में कारोबार करती है। कंपनी का कारोबार भारत के साथ विदेशों में भी फैला हुआ है। 

स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज के शेयर में कारोबार 

स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज के शेयर में मंगलवार को तेजी देखी गई है। दोपहर 1 बजे तक ये 6.79 प्रतिशत की तेजी के साथ 142 रुपये पर कारोबार कर रहा था। वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी की आय 6,925 करोड़ रुपये रही थी। इस दौरान अपनी को 127 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। वहीं, दिसंबर तिमाही में कंपनी की आय 1,322 करोड़ रुपये रही थी और कंपनी ने 59 करोड़ का नुकसान दर्ज किया था। 

Latest Business News

By upnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *